RIL को Q2 में 11,262 करोड़ का रेकॉर्ड मुनाफा

नई दिल्ली,तेल से तकनीकी क्षेत्र तक कारोबार करने वाली रिलायंस इंडस्ट्री लि. (RIL) ने शुक्रवार को चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में आय-व्यय का लेखाजोखा पेश कर दिया। टेलिकॉम तथा रिटेल क्षेत्र के जोरदार प्रदर्शन की बदौलत कंपनी का मुनाफा साल दर साल आधार पर 18.32% बढ़कर रेकॉर्ड 11,262 करोड़ रुपये रहा। ईटी नाउ के विश्लेषकों ने दूसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 11,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान जताया था।
कंपनी की दूसरी तिमाही में कुल आमदनी साल दर साल आधार पर 4.84% बढ़कर 1.64 लाख करोड़ रुपये रही, जो पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1.56 लाख करोड़ रुपये रही थी। वित्तीय नतीजे जारी करते हुए कंपनी के चेयरमैन एवं एमडी मुकेश अंबानी ने कहा, 'कंपनी को इस तिमाही में रेकॉर्ड शुद्ध मुनाफा हुआ है।'
जियो को 990 करोड़ रुपये का मुनाफा
रिलायंस की दूरसंचार इकाई जियो को दूसरी तिमाही में साल दर साल आधार पर मुनाफा 45.50% बढ़कर 990 करोड़ रुपये रहा। कंपनी की ऐवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) 120 रुपये रही। जियो की EBITDA मार्जिन इस तिमाही में बढ़कर 41.8% हो गई है। जबसे जियो शुरू हुआ है, तभी से इसकी EBITDA मार्जिन हर तिमाही में बढ़ती रही है।
जियो का EBITDA दूसरी तिमाही में पिछले साल के मुकाबले 44.6% बढ़कर 5,166 करोड़ रुपये हो गया है। पिछले साल के मुकाबले ऑपरेटिंग रेवेन्यू 33.7% बढ़कर 12,354 करोड़ रुपए हो गया है। इसका का डेटा ट्रैफिक पिछले साल के मुकाबले 56% और वॉइस कॉल मिनिट 52% बढ़ गया है।
पिछले एक साल में जियो के साथ 10 करोड़ 30 लाख ग्राहक जुड़े हैं। इस तिमाही में रिलायंस जियो के साथ कुल 2 करोड़ 40 लाख ग्राहक जुड़े। 30 सितंबर 2019 तक जियो के कुल 35 करोड़ 52 लाख ग्राहक हो गए हैं। ये पिछले साल के मुकाबले 40.8% ज्यादा है। राजस्व और ग्राहकों की संख्या के हिसाब से जियो भारत की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। इसके 35 करोड़ से अधिक ग्राहक हैं।