PMC बैंक मामले में पहली बार गिरफ्तारी, सारंग वाधवान और राकेश वाधवान हुए अरेस्ट

मुंबई: पीएमसी बैंक (PMC Bank) मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है. सारंग वाधवान और राकेश वाधवान को पुलिस ने किया गिरफ्तार है. पीएमसी बैंक को कर्ज में डुबाने वाले 44 बड़े अकाउंटों में 10 खाते HDIL और वाधवान से जुड़े हैं. उन 10 खातों में से एक सारंग वाधवान और दूसरा राकेश वाधवान का निजी खाता है. गुरुवार को इन दोनों को पूछताछ के लिए बुलाया गया था, जांच में सहयोग नहीं करने पर यह गिरफ्तारी हुई है.

सूत्रों का कहना है कि बैंक की हार्डशिप कमेटी आरबीआई से मंजूरी लेकर ग्राहक को ज्यादा रकम दे सकती है. पिछले दिनों पीएमसी बैंक की धोखाधड़ी सामने आने के बाद आरबीआई की तरफ से खाता से निकासी की रकम 10,000 रुपये तय की गई थी. आरबीआई के इस कदम के बाद बैंक के हजारों ग्राहक काफी परेशान थे.

इससे पहले आरबीआई (RBI) ने 24 सिंतबंर को जारी किए आदेश में पीएमसी बैंक पर छह महीने के लिए रोक लगा दी थी. उस समय रिजर्व बैंक ने पीएमसी बैंक के खाताधारकों के लिये निकासी की सीमा 1,000 रुपये तय की थी. इसके अलावा इस अवधि में बैंक द्वारा नया कर्ज देने पर भी रोक लगाई गई थी.