सरकारी हॉस्टल में नहीं रखें देवी-देवताओं की प्रतिमाएं, जारी किया फरमान

राजनांदगांव,छत्तीसगढ़  के राजनांदगांव  जिले के मानपुर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी (BEO) के एक फरमान से चर्चाओं का दौर गर्म हो गया है. बीईओ ने सरकारी हॉस्टल में देवी-देवताओं की प्रतिमाएं नहीं रखने और धार्मिक आयोजन नहीं करने का फरमान हॉस्टल अधीक्षकों को जारी किया गया है. इस आदेश के मिलते ही अधीक्षक और छात्रावास मे रहने वाले छात्र-छात्राए हैरान हैं. जारी आदेश मे बीईओ ने स्पष्ट कर दिया है कि इसका पालन नहीं होगा तो सख्त कार्रवाई की जायेगी.
राजनांदगांव के मानपुर ब्लाक के आदिवासी विभाग के संयोजक डीके वर्मा  के हस्ताक्षर वाले फरमान पत्र पर शिक्षा विभाग की खूब किरकिरी हो रही है. विभाग की किरकिरी होने पर जिला शिक्षा अधिकारी  ने मामले को आदिवासी विकास विभाग का मामला बता दिया और अपना पल्ला झाड़ लिया. बीईओ एनके निरापुरे के लेटर पैड से जारी हुए आदेश में आदिवासी विकास विभाग के मंडल संयोजक डीके वर्मा के हस्ताक्षर हैं. इसे बीईओ के जानकारी में ही भेजा गया है. इस मामले में शिक्षा विभाग के अधिकारी कुछ भी कहने से बचे रहे हैं.
आदेश में शिकायत का जिक्र
बीईओ द्वारा जारी आदेश में आदिवासी नेता सरजु टेकाम की ओर से की गई शिकायत का भी जिक्र किया गया है. जिला प्रशासन भी इस मामले में कुछ भी कहने से इनकार किया है. हालांकि इस आदेश पत्र के जारी होने के बाद सोशल मीडिया पर भी कई प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इस फरमान का सोशल मीडिया पर जमकर विरोध किया जा रहा है.