भारत ODF घोषित, मोदी बोले- यह सरकार-PM की नहीं, देशवासियों की सफलता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बापू की धरती गुजरात से देश के खुले में शौच मुक्त होने का ऐलान किया. अहमदाबाद के साबरमती में आयोजित ‘स्वच्छ भारत दिवस’ कार्यक्रम में पीएम मोदी ने इसका ऐलान किया.
पीएम मोदी ने गांधी जयंती पर जारी किया 150 का चांदी का सिक्कामोदी बोले- ग्रामीण भारत ने खुद को खुले में शौच मुक्त घोषित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर हिंदुस्तान को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित कर दिया. बुधवार को पीएम मोदी ने बापू की धरती गुजरात से देश को खुले में शौच मुक्त होने का ऐलान किया. इसके लिए अहमदाबाद के साबरमती में ‘स्वच्छ भारत दिवस’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

इस कार्यक्रम में काफी संख्या में स्वच्छाग्रहियों ने हिस्सा लिया. इस दौरान पीएम मोदी ने बापू की 150वीं जयंती को यादगार बनाने के लिए डाक टिकट और चांदी का सिक्का जारी किया. साथ ही स्वच्छाग्रहियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया. उन्होंने कहा कि किसी सरकार या प्रधानमंत्री या फिर किसी मुख्यमंत्री ने हिंदुस्तान को खुले में शौच मुक्त नहीं किया है. 130 करोड़ देशवासियों ने भारत को खुले में शौच मुक्त बनाया है.

उन्होंने कहा कि ग्रामीण भारत ने खुद को खुले में शौच मुक्त किया. इससे पहले पीएम मोदी दिल्ली के राजघाट गए और बापू को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद वो विजयघाट पहुंचे और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की. फिर पीएम मोदी संसद परिसर पहुंचे और बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और फिर साबरमती आश्रम के लिए रवाना हो गए.

अहमदाबाद एयरपोर्ट पर क्या बोले पीएम मोदी?

पीएम मोदी जब अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे तो बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और कहा कि अब दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है. पूरा विश्वास भारत की ओर सकारात्मक नजर से देख रहा है. अहमदाबाद एयरपोर्ट से पीएम मोदी सीधे साबरमती आश्रम पहुंचे और बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. इसके बाद प्रधानमंत्री साबरमती रिवरफ्रंट पहुंचे और स्वच्छ भारत दिवस कार्यक्रम को संबोधित किया.
मोदी बोले- बापू के सपनों का भारत बनाएंगे

स्वच्छ भारत दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘हम बापू के सपनों का भारत बनाएंगे, जो सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के आदर्श पर चलेगा. बापू के राष्ट्रवाद के विचार पूरी दुनिया के लिए आदर्श सिद्ध होंगे और प्रेरणा स्रोत बनेंगे.’

उन्होंने कहा कि बापू के सपनों का भारत नया भारत बन रहा है. बापू के सपनों का भारत स्वच्छ होगा और पर्यावरण सुरक्षित होगा. बापू के सपनों के भारत में हर व्यक्ति स्वस्थ और फिट होगा. हर मां और हर बच्चा पोषित होगा. बापू के सपनों के भारत में हर नागरिक सुरक्षित महसूस करेगा. बापू के सपनों का भारत भेदभाव से मुक्त और सद्भाव युक्त होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि बापू ने सत्य, अहिंसा, सत्याग्रह और स्वावलंबन के विचारों ने देश को रास्ता दिखाया था, जिस पर हम चलकर स्वच्छ, स्वस्थ, समृद्ध और सशक्त न्यू इंडिया के निर्माण में लगे हैं. बापू स्वच्छता को सर्वोपरि मानते थे. सच्चे साधक के तौर पर देश का ग्रामीण क्षेत्र आज उन्हें स्वच्छ भारत की कार्यांजलि दे रहा है. बापू सेहत को सच्चा धन मानते थे और चाहते थे कि देश का हर नागरिक स्वस्थ हो.