भारत में अपने पहले टेस्ट में ही मयंक ने किया धमाल, छक्के से पूरी की फिफ्टी

नई दिल्ली: गांधी-मंडेला सीरीज के तहत भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच विशाखापत्तनम में पहला टेस्ट खेला जा रहा है. गांधी जयंती पर शुरू हुई इस सीरीज की शुरुआत टीम इंडिया के लिए बहुत अच्छी रही. टॉस भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने जीता और पहले सत्र में भारतीय सलामी जोड़ी रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने बढ़िया बल्लेबाजी की. मयंक अग्रवाल ने अपने पहले घरेलू टेस्ट मैच में शानदार हाफ सेंचुरी लगाई.
इस मैच से एक ओर जहां रोहित शर्मा 27 टेस्ट खेलने के बाद पहली बार टीम इंडिया के लिए टेस्ट मैच में ओपनिंग कर रहे थे, वहीं अपने करियर का पांचवां टेस्ट खेल रहे मयंक अग्रवाल का यह भारत में पहला टेस्ट था. मयंक ने पहले सत्र में बढ़िया जुझारुपन दिखाया और कई मौकों में पर बीट भी हुए, लेकिन दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज खास तौर पर कीगसो रबाडा और वर्नेन फिलैंडर उनसे गलती नहीं करवा सके.
मयंक ने पहले सत्र में 96 गेंद पर 39 रन बनाए. इस पारी में मयंक ने छह चौके और एक छक्का लगाया. दूसरे सत्र में उन्होंने अपनी फिफ्टी पूरी करने में कुछ समय लिया. 14 गेंदों खेलने के बाद उन्होंने चौका लगाया. इसके बाद छक्के से अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की. मयंक ने इस फिफ्टी में सात चौके और दो छक्के लगाए.
मयंक इससे पहले सात पारियों में तीन हाफ सेंचुरी लगा चुके थे. उनका सर्वोच्च स्कोर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 77 रन है. मयंक ने ऑस्ट्रेलिया में तीन पारियों में दो फिफ्टी लगाई थीं. इसके बाद वेस्टइंडीज में वे तीन पारियों में वे केवल एक बार हाफ सेंचुरी लगा सके थे. मयंक ने अब तक अपनी तकनीक से किसी को निराश नहीं किया है. उन्होंने अपने घरेलू अनुभव को भी साबित किया है.